राजस्थान पुलिस भर्ती में सफलता के लिए ऐसे करें परीक्षा की तैयारी, सभी पार्ट के लिए ऐसे बनाएं योजना


Rajasthan Police Exam 2020: राजस्थान पुलिस कांस्टेबल भर्ती के लिए प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कर रहे युवाओं को पढाई के लिए योजना बनानी चाहिए। पढाई की योजना में सबसे पहले पाठ्यक्रम को आधिकारिक वेबसाइट से डाउनलोड करना चाहिए। राजस्थान पुलिस कांस्टेबल भर्ती में इस बार प्रत्येक पार्ट क्वालीफाई करना अनिवार्य नहीं है। इस बार भर्ती के लिए पेपर में प्राप्तांक को ही मेरिट का आधार माना जाएगा। परीक्षार्थी सबसे बड़ी गलती करते हैं सभी प्रश्नों को हल करके। नकारात्मक अंकन के चलते प्राप्तांक में गिरावट आ जाती है। पिछली भर्तियों की अगर बात करें तो कम प्राप्तांकों में भी कई जिलों की मेरिट बनी थी। ज्यादा अंकों के लालच में सभी प्रश्नों को करने के चक्कर में नकारात्मक अंकन का शिकार हो जाते हैं। जिस प्रश्न पर संशय है, उसे छोड़ देना ही उचित रहता है। 1/8 की नेगेटिव मार्किंग में रिस्क ली जा सकती है, लेकिन 1/4 में भूलकर भी गलती न करें।

रीजनिंग और सामान्य विज्ञान
पुलिस कांस्टेबल भर्ती परीक्षा में गणित और रीजनिंग से जुड़े अंकों को सुरक्षित किया जा सकता हैं। जनरल साइंस और कंप्यूटर से संबंधित अंक भी प्राप्त करना मुश्किल नहीं है। अभ्यर्थियों को परीक्षा की तैयारी में सबसे पहले आसानी से हासिल किए जाने वाले अंकों के लिए तैयारी करनी है। समसामयिकी को को भी प्राथमिकता के साथ पढ़ना होगा। समसामयिकी के लिए अखबार को डेली रूटीन बना लें तो बेहतर होगा। सामान्य ज्ञान विषय बहुत बड़ा है, इसके लिए जिस भी पॉइंट को पढ़ें तो अच्छे से पढ़ें। राजस्थान सामान्य ज्ञान से प्रश्न ज्यादा पूछे जाते हैं। सामान्य ज्ञान, इतिहास और संस्कृति से संबंधित पार्ट की तैयारी के लिए अच्छे लेखक की ही पुस्तक को पढ़ें। बहुत सी पुस्तकों में गलत उत्तर छपे होने से भी खामियाजा भुगतना पड़ सकता है।

पेपर को ऐसे करें हल
प्रश्न पत्र हल करने के लिए टाइम का जरूर समय ध्यान रखें। सिमित समय के अंदर ही प्रश्न पत्र को हल करना है। जिस पार्ट पर पकड़ अच्छी है उसे सबसे पहले हल करें। रीजनिंग में कम से कम समय देने की कोशिश करें। सामान्य ज्ञान और सामान्य विज्ञान को भी प्राथमिकता पर रखें। एक पार्ट हल करने के बाद पुनः पढ़कर ही ओएमआर सीट को भरें। ओएमआर सीट में उत्तर के विकल्प को गोला करने के बाद हटाया नहीं जा सकता। पार्ट के अनुसार समय -समय पर ओएमआर भी भरते जाएं।


Post a Comment

0 Comments