तीन वर्ष के लिए सेना भर्ती : 'टूर ऑफ़ ड्यूटी' के लिए 100 ऑफिसर और 1000 जवानों की होगी भर्ती, जानें क्या है जरुरी योग्यता


Indian Army Tour of Duty : भारतीय सेना में टूर ऑफ़ ड्यूटी प्रोग्राम की घोषणा के साथ ही युवाओं में जोश देखने को मिल रहा है। चीफ ऑफ़ आर्मी स्टाफ मनोज मुकुंद नवरणे ने भर्ती को लेकर घोषणा की है। टूर ऑफ़ ड्यूटी प्रोग्राम के जरिए 1000 युवाओं की भर्ती की जाएगी। भर्ती के लिए आवेदन सहित सभी प्रक्रिया सिपाही सामान्य ड्यूटी की भांति ही होगी। भर्ती हो चुके उम्मीदवारों को रेगुलर इंडियन आर्मी में सिपाही के रूप में ड्यूटी करनी होगी। सभी स्तर पर भर्ती के लिए अभी आधिकारिक नोटिफिकेशन जारी नहीं किया गया है। केंद्र ने कोरोना संकट के चलते आर्मी को भी खर्चों में 20% की कटौती करने को कहा है। जनरल नरवणे ने ऑनलाइन वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में कहा कि टूर ऑफ ड्यूटी के लिए कई स्कूल और कॉलेजों से फीडबैक मिले हैं। बड़ी संख्या में टैलेंटेड युवा मिलिट्री लाइफ जीना चाहते हैं।

आयु सीमा
सामान्य ड्यूटी सिपाही भर्ती की ही भांति इसमें भी 18 वर्ष के युवा आवेदन के पात्र होंगे। अधिकतम आयु सीमा के तौर पर 21 से 22 वर्ष की जा सकती है। ऊपरी आयु सीमा को लेकर कोई नोटिफिकेशन अभी जारी नहीं किया गया है।

प्रशिक्षण
टूर ऑफ़ ड्यूटी के लिए भर्ती हो चुके युवाओं को प्रशिक्षण से गुजरना होगा। लेकिन यह प्रशिक्षण कम अवधि का होगा। ट्रेनिंग की अवधि को कम करके 6 से 9 महीने किया जाएगा। भर्ती हो चुके युवाओं को रेगुलर आर्मी में सिपाही के रूप में सेवा देनी होगी।

यहां भी मिलेंगे अवसर
महिंद्रा ग्रुप के चैयरमेन ने भी ऐसे युवाओं को अपनी कम्पनी में नौकरी देने की घोषणा कर दी है। कार्यानुभव के रूप में इन 3 वर्षों को सभी श्रेणी की नौकरियों में काम में लिया जा सकेगा। प्राइवेट और सरकारी नौकरियों में टूर ऑफ़ ड्यूटी के अनुभव के निश्चित अंक भी दिए जाएंगे।

सेना के प्रवक्ता कर्नल अमन आनंद ने कहा, ‘‘अगर इस प्रस्ताव को मंजूरी मिल जाती है तो यह स्वैच्छिक भागीदारी वाली प्रक्रिया होगी और चयन मानदंडों को हल्का नहीं किया जाएगा। परियोजना के परीक्षण के लिए शुरुआत में 100 अधिकारियों और 1000 जवानों की भर्ती पर विचार चल रहा है.’’


⏬ Buy Important Books For All Competitive Exams ⏬

Post a Comment

0 Comments