Indian Army Rally Bharti 2020: चार जिलों के लिए सेना रैली भर्ती 2 दिसंबर से शुरू, जानें पूरा प्रोसेस


Indian Army Rally Bharti 2020: भारतीय सेना रैली भर्ती का आयोजन चार जिलों के लिए दिसंबर महीने के पहले सप्ताह में किया जाएगा। इन सेना रैली भर्ती के लिए आवेदन प्रक्रिया जल्द ही शुरू की जाएगी की जाएगी। हरियाणा में 2 दिसंबर से 12 दिसंबर 2020 के बीच सेना भर्ती रैली का आयोजन किया जाएगा। यह रैली भर्ती रेवाड़ी जिले के राव तुला राम स्टेडियम में होगी। joinindianarmy.nic.in पर जारी नोटिफिकेशन में कहा गया है कि इस भर्ती रैली में हरियाणा के हिसार, जिंद, फतेहाबाद और सिरसा जिले के युवा योग्य होंगे। ये भर्ती भारतीय सेना में सिपाही ट्रेड्समैन कैटेगरी के लिए की जा रही है।

Click Here For More Details

रैली में हिस्सा लेने के इच्छुक उम्मीदवार joinindianarmy.nic.in पर जाकर 16 नवंबर 2020 तक रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं। रैली में शामिल होने के लिए उम्मीदवारों के एडमिट कार्ड 17 नवंबर से जारी किए जाएंगे। एडमिट कार्ड उम्मीदवारों के रजिस्टर्ड ईमेल एड्रेस पर भी भेजे जाएंगे। उम्मीदवारों को एडमिट कार्ड में दिए गए स्थान पर और तय समय पर पहुंचना होगा।

उम्मीदवार रैली स्थल पर एडमिट कार्ड जरूर साथ लाएं वरना एंट्री नहीं मिलेगी। उम्मीदवारों को तय तिथि पर सुबह 3 बजे रैली ग्राउंड पर रिपोर्ट करना होगा। गेट रोजाना 9.30 बजे बंद हो जाएगा। रैली स्थल और लिखित परीक्षा परिसर में मोबाइल प्रतिबंधित रहेगा।

Read More: 10वीं-12वीं पास बेरोजगारों को मिल रहा सरकारी नौकरी का बड़ा मौका, न परीक्षा न इंटरव्यू

Indian Army Physical Test
इंडियन आर्मी रैली भर्ती के लिए शारीरिक दक्षता परीक्षा में अभ्यर्थी की न्यूनतम लंबाई 170 सेमी और वजन 50 किग्रा होना जरुरी है। सीना न्यूनतम 77 सेमी और 5 सेमी फुलाव होना चाहिए। क्लर्क पद के लिए लंबाई में छूट दी गई है उक्त पद हेतु अभ्यर्थी की लंबाई 162 सेमी होनी चाहिए। शारीरिक दक्षता परीक्षा 100 अंकों की होगी। 9 फ़ीट डिच और जिग ज़ैग बैलेंस को क्वालीफाई करना होगा। 60 अंकों की दौड़ और 40 अंकों की बीम-बार होगी।

Indian Army Medical Test
रैली भर्ती में मेडिकल टेस्ट ग्राउंड में ही चिकित्सा विशेषज्ञों की टीम द्वारा किया जाता है। जिन अभ्यर्थियों ने शारीरिक दक्षता परीक्षा पास कर ली होती है वे चिकित्सा परीक्षण के लिए पात्र होते हैं। जिन अभ्यर्थियों को चिकित्सा परिक्षण में रैफर मिल जाता है वे 14 दिन के अंदर दिए गए हॉस्पिटल में पुनः जांच करवा सकते हैं। MH/CH/BH के चिकित्सा विशेषज्ञों के द्वारा रैफर तोड़े जाने के बाद अभ्यर्थी परीक्षा के लिए पात्र माना जाता है। पहले ग्राउंड फ़ीट कैंडिडेट की परीक्षा रैफर कैंडिडेट से पहले आयोजित की जाती थी। लेकिन अब सभी कैंडिडेट्स की परीक्षा एक साथ आयोजित की जाती है।


⏬ Buy Important Books For All Competitive Exams ⏬

Post a Comment

0 Comments