Covid-19: माता-पिता को खो चुके बच्चों की पढ़ाई का खर्च उठाएगी दिल्ली सरकार, बुजुर्गों को वित्तीय सहायता का दिया भरोसा


Covid-19: देशभर में कोरोना का कहर जारी है। इस बार देश की राजधानी दिल्ली में कोरोना संक्रमण से जान गंवाने वाले मरीजों की संख्या बहुत अधिक है। दिल्ली में कोरोना पॉजिटिविटी दर में कमी आई है, लेकिन इस संक्रमण से जान गंवाने वाले मरीजों की संख्या में कमी देखने को नहीं मिल रही है।

Read More: CBSE 12th Exam 2021: बोर्ड के अधिकारियों ने कहा - परीक्षा रद्द होने के मसले पर अभी कोई फैसला नहीं लिया

इस बीच दिल्ली में कोरोना से जान गंवाने वाले लोगों के बच्चों के लिए दिल्ली सरकार ने एक बड़ी घोषणा की है। दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने शुक्रवार को एक प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा कि दिल्ली सरकार ऐसे बच्चों की शिक्षा का पूरा खर्च उठाएगी, जिन्होंने अपने माता-पिता को कोरोना के कारण खो दिया है। इसके अलावा जिन बुजुर्गों ने अपने घर के कमाऊ युवाओं को खो दिया है, उन्‍हें भी दिल्ली सरकार मदद देगी। दिल्‍ली सरकार ऐसे बुजुर्गों को वित्तीय सहायता मुहैया कराएगी।

24 घंटे में सामने आए कोरोना के 8500 नए मरीज

सीएम केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली में पिछले 24 घंटे के अंदर कोरोना के 8500 नए मरीज सामने आए हैं। यह पिछले कई दिनों का सबसे कम आंकड़ा है। दिल्ली में कोरोना संक्रमण दर में भी काफी कमी आ रही है। दिल्ली में अब कोरोना पॉजिटिविटी रेट गिरकर 12 फीसदी हो गई है। पिछले 10 दिनों में लगभग 3,000 कोविड-19 बेड खाली हो गए हैं, लेकिन आईसीयू बेड लगभग भरे हुए हैं।

Read More: Gujarat NMMS Result 2021 declared: कक्षा 8 के छात्रवृत्ति परिणाम जारी, यहां से करें चेक

उन्होंने कहा कि गंभीर कोविड-19 रोगियों को पर्याप्त बिस्तर और समय पर उपचार प्रदान करने के लिए 1200 ICU बेड पूरी तैयार हैं। हम कोरोना से प्रभावित लोगों की हर स्तर पर सहायता करने के लिए तैयार है।

Read More: Amity University: मुंबई में खुला भारत का पहला एस्ट्रोबायोलॉजी सेंटर ऑफ एक्सीलेंस, छात्रों के लिए सुनहरा मौका

Web Title: Delhi Government To Provide Free Education To Kids Who Lost Parents Due To coronavirus


⏬ Buy Important Books For All Competitive Exams ⏬

Post a Comment

0 Comments